मई में रेलवे के इलाहाबाद मंडल को मिलेगा ये नायाब तोहफा

इलाहाबादः उत्तर मध्य रेलवे के इलाहाबाद मंडल के बम्हरौली रेलवे स्टेशन की कमान अब जल्द ही महिला कर्मचारियों के हाथों में होगी। बम्हरौली स्टेशन पर रेल परिचालन की कमान संभालने वाले स्टेशन मास्टर से लेकर कामर्शियल और सेक्योरिटी के सभी पदों पर सिर्फ महिला कर्मचारी ही काम करती नजर आएंगी। मई के महीने से बम्हरौली रेलवे स्टेशन की कमान महिला कर्मचारियों को सौंपे जाने की तैयारी पूरी कर ली गई है। 

नार्थ सेन्ट्रल रेलवे के इलाहाबाद मण्डल ने जहां कानपुर के गोविन्दपुरी रेलवे स्टेशन की कमान 8 मार्च अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर महिलाओं को सौंप दी है। वहीं कानपुर के गोविंदपुरी स्टेशन के बाद अब मई महीने से इलाहाबाद के बम्हरौली स्टेशन पर यह व्यवस्था शुरू होने जा रही है।

डीआरएम इलाहाबाद मण्डल संजय कुमार पंकज के मुताबिक महिलायें आज हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं। यही वजह है कि महिलाओं के सशक्तीकरण को लेकर रेलवे ने नई पहल शुरु की है। इसके तहत इलाहाबाद मण्डल के दो स्टेशनों को महिला स्टेशन के रुप में चयनित भी किया गया है। उन्होंने कहा है कि हाल के वर्षों में रेलवे में महिलाओं की भी भर्ती में तेजी आयी है। ऐसे में महिलाओं के हाथों में रेलवे स्टेशन की कमान सौंपे जाने से महिलाओं का आत्म विश्वास भी बढ़ेगा। 

भारतीय रेलवे में महिलायें आज लगभग हर पदों पर कार्य कर रही हैं। महिलायें आज के दौर में भारतीय रेलवे में पुरुषों के लिए ही माने जाने वाले पदों पर बेहतर सेवायें दे रही हैं। महिलायें स्टेशन मास्टर, गार्ड, लोको पायलट, टीईटी के पदों पर चुनौती पूर्ण सेवायें दे रही हैं।

इसके साथ  आरपीएफ में तैनात महिलाओं के कन्धे पर रेलवे की सुरक्षा भी अहम जिम्मेदारी है।  कानुपर के गोविन्दपुरी रेलवे स्टेशन का प्रयोग सफल रहा है। उन्होंने कहा है कि बम्हरौली के बाद अन्य स्टेशनों को भी महिला स्टेशन के रुप में बनाये जाने पर विचार किया जायेगा।